63 देशों से आये मुख्य न्यायाधीशों व अन्य प्रख्यात हस्तियों के सम्मान में सी एम एस स्कूल मे आयोजित हुआ ‘स्वागत समारोह’

  • सीएमएस स्कूल द्वारा आयोजित 24वाँ अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन लखनऊ में, कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन होगा कल
  • मैरी सिरिल एडी बोइसेज़ोन, उप-राष्ट्रपति, मॉरीशस कार्यक्रम का कल करेंगी उद्घघाटन
  • सीएमएस संस्थापक डॉक्टर जगदीश गांधी ने बताया कि यह सम्मेलन प्रतिवर्ष कराया जाता है इस सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य विश्व में शांति व विश्व एकता है
  • उद्घाटन समारोह से पूर्व सी.एम.एस. छात्र कानपुर रोड स्थित पुरानी चुंगी से सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम तक ‘वर्ल्ड यूनिटी मार्च’ निकालेंगे
  • आयोजित सम्मेलन’ में कई देशों के पूर्व राष्ट्रपति, पूर्व प्रधानमंत्री, संसद के अध्यक्ष, न्यायमंत्री, संसद सदस्य, इण्टरनेशनल कोर्ट के न्यायाधीश समेत 63 देशों के 250 से अधिक मुख्य न्यायाधीश ले रहे है हिस्सा

सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा आयोजित ‘24वें अन्तर्राष्ट्रीय मुख्य न्यायाधीश सम्मेलन’ में 63 देशों से आये 250 से अधिक मुख्य न्यायाधीशों, न्यायाधीशों व अन्य प्रख्यात हस्तियों का ‘स्वागत समारोह’ आज सी.एम.एस. कानपुर रोड परिसर में सम्पन्न हुआ।

मुख्य अतिथि मैरी सिरिल एडी बोइसेज़ोन, उप-राष्ट्रपति, मॉरीशस एवं विशिष्ट अतिथि सुषमा खरकवाल, महापौर, लखनऊ ने दीप प्रज्वलित कर ‘स्वागत समारोह’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में मुख्य अतिथि बोइसेज़ोन ने कहा कि सिटी मोन्टेसरी स्कूल ने बच्चों के अधिकारों को लेकर जो आवाज बुलन्द की है, वह प्रशंसनीय है। भावी पीढ़ी के हित में सभी देशों को मिलजुलकर कार्य करना चाहिए।

इस अवसर पर सी.एम.एस. छात्रों ने गणमान्य अतिथियों के सम्मान में साँस्कृतिक कार्यक्रमों को प्रदर्शित कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।

स्वागत समारोह की विशिष्ट अतिथि एवं लखनऊ की मेयर सुषमा खरकवाल ने अपने संबोधन में कहा कि बच्चे हमारा भविष्य हैं और उनका हित हमारे लिए सर्वोपरि होना चाहिए। इस अवसर पर खरकवाल ने मोजाम्बिक के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति एडेलिनो मैनुअल मुचांगा को ‘लखनऊ शहर की चाबी’ भेंटकर सम्मानित किया जबकि लेसोथो के पूर्व प्रधानमंत्री डा. पकालिथा बी. मोसिसिली को ‘महात्मा गाँधी अवार्ड फॉर वर्ल्ड यूनिटी’ से सम्मानित किया गया।सी.एम.एस. संस्थापक व अन्तर्राष्ट्रीय मुख्य न्यायाधीश सम्मेलन के संयोजक डा. जगदीश गाँधी ने सभी गणमान्य अतिथियों का हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन किया।

सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने भी न्यायविद् व कानूनविद का किया स्वागत

इस अवसर पर आयोजित प्रेस कान्फ्रेन्स में मुख्य न्यायाधीशों, न्यायाधीशों व अन्य प्रख्यात हस्तियों ने विश्व के दो अरब बच्चों के सुरक्षित भविष्य हेतु सी.एम.एस. की इस ऐतिहासिक पहल की भरपूर सराहना की। प्रेस कान्फ्रेन्स में इस्वातिनी के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति मूसा कथबर्ट भेकी मफलाला, बोत्सवाना हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति टेरेंस रन्नोवेन, साउथ सूडान के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति चान रीक मदुत, मॉरीशस की मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति बीबी रेहाना मुंगली-गुलबुल व कई अन्य न्यायविद व कानूनविद ने अपने विचार व्यक्त किये।

सी.एम.एस. के संस्थापक डाक्टर जगदीश गाँधी ने बताया कि इस ऐतिहासिक सम्मेलन का औपचारिक उद्घघाटन कल 4 नवम्बर, शनिवार को सुबह 9.00 बजे सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में होगा। उद्घाटन समारोह से पूर्व सी.एम.एस. छात्र कानपुर रोड स्थित पुरानी चुंगी से सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम तक ‘वर्ल्ड यूनिटी मार्च’ निकालेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.