लोकसभा चुनाव : 14 फरवरी को यूपी में प्रवेश करेगी राहुल गांधी की न्याय यात्रा…

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व मंत्री अजय राय ने कहा कि पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा 14 फरवरी तक उत्तर प्रदेश में आने की उम्मीद है। यह यात्रा करीब 11 दिन प्रदेश में रहेगी। यात्रा के आने से पहले हर जिले में विभिन्न कार्यक्रम होंगे। इसके तहत 26 जनवरी को झंडारोहण के बाद हर ब्लॉक में न्याय यात्रा निकाली जाएगी, जो 30 को जिला मुख्यालयों पर पहुंचेगी।

प्रदेश कार्यालय में बृहस्पतिवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए पूर्व मंत्री अजय राय ने कहा कि 26 जनवरी को दोपहर में हर ब्लाक से निकलने वाली न्याय यात्रा के दौरान रास्ते में पड़ने वाले शहीद स्थलों एवं महापुरूषों के स्थलों पर श्रद्धांजलि दी जाएगी। रास्ते में किसी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी का घर पड़ता है तो सेनानी अथवा उनके परिजनों का सम्मान किया जाएगा। इसी तरह रास्ते में किसी वरिष्ठ कांग्रेस नेता का घर पड़ता है तो वहां भी रुक कर उनका सम्मान किया जाएगा। ब्लॉक मुख्यालयों से निकलने वाली यात्रा 30 जनवरी को जिला मुख्यालय पहुंचेगी, जहां महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष सभा होगी। महात्मा गांधी के विचारों को आत्मसात करने और उसे जन- जन तक पहुंचाने का संकल्प लिया जाएगा।

मणिपुर सरकार पर आरोप, पीएम से सवाल
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय ने आरोप लगाया कि पार्टी के नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में निकल रही न्याय यात्रा को रोकने के लिए असम सरकार ने कई तरह की साजिशें कीं। केंद्र सरकार के इशारे पर उसने लगातार व्यवधान डाला। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पांच सवाल करते हुए कहा कि आखिर न्याय यात्रा से इतना डर क्यों है? उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुलंदशरह में जनसभा की है, लेकिन वह बताएं कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए अब तक क्या किया? आखिर 2014 से 22 के बीच 100474 किसानों के आत्महत्या के लिए कौन जिम्मेदार है? प्रदेश अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने कृषि बजट में कटौती की। किसान सम्मान निधि में से 2 करोड़ 29 लाख किसानों का नाम क्यों काट दिया गया? प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में किसानों को मुआवजा देने के बजाय निजी कंपनियों के मुनाफा कमाने के पीछे किसका हाथ है? गन्ना किसानों का मुद्दा उठाते हुए प्रदेश अध्यक्ष अजय राय ने कहा कि गन्ने का मूल्य सिर्फ 20 रुपया बढ़ाया गया है, जो नाकाफी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.