पेटीएम के शेयर लगातार दूसरे दिन 20 फीसदी टूटे

पेटीएम ब्रांड का स्वामित्व रखने वाली कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड के शेयरों में शुक्रवार को और 20 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। कंपनी के शेयरों में लगातार दूसरे दिन आई यह गिरावट रिजर्व बैंक की ओर से पेटीएम पेमेंट बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) को 29 फरवरी के बाद किसी भी ग्राहक खाते, वॉलेट, फास्टैग और अन्य उपकरणों में जमा या टॉप-अप स्वीकार करना बंद करने का निर्देश देने के बाद आई है।

बंबई शेयर बाजार में कंपनी के शेयर शुक्रवार को 20 प्रतिशत टूटकर 487.05 रुपये पर आ गया, जो आज कारोबारी दिन के लिए लोअर सर्किट है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में भी यह 20 प्रतिशत टूटकर 487.20 रुपये के लोअर सर्किट पर आ गया।

वन97 कम्युनिकेशंस के शेयर भी गुरुवार को भी 20 फीसदी तक टूट गए थे। दो दिन में कंपनी का बाजार पूंजीकरण 30,931.59 करोड़ रुपये घटकर 17,378.41 करोड़ रुपये रह गया। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा पेटीएम पेमेंट बैंक लिमिटेड को किसी भी ग्राहक के खाते में जमा या टॉप-अप स्वीकार करने से रोक लगाए जाने के बाद फिनटेक कंपनी पेटीएम के सालाना परिचालन लाभ पर 300-500 करोड़ रुपये का असर पड़ सकता है।

केंद्रीय बैंक ने बुधवार को पीपीबीएल को 29 फरवरी, 2024 के बाद किसी भी ग्राहक खाते, प्रीपेड इंस्ट्रूमेंट्स, वॉलेट और फास्टैग में जमा या टॉप-अप स्वीकार करने से रोक दिया। हालांकि ग्राहक पेटीएम वॉलेट और पीपीबीएल अकाउंट से पैसे डालने के साथ-साथ पैसे निकाल भी निकाल सकते हैं।

आरबीआई ने कहा कि पीपीबीएल के खिलाफ कार्रवाई एक व्यापक सिस्टम ऑडिट रिपोर्ट और बाद में बाहरी ऑडिटरों की अनुपालन सत्यापन रिपोर्ट के बाद की गई है। वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (ओसीएल) की पीपीबीएल में 49 फीसदी हिस्सेदारी है।

29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा पेटीएम: विजय शेयर शर्मा
पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा ने उपयोगकर्ताओं की चिंताओं को दूर करने की कोशिश करते हुए शुक्रवार को कहा कि एप 29 फरवरी के बाद भी काम करना जारी रखेगा। उन्होंने कहा कि भले ही भारतीय रिजर्व बैंक ने मार्च से फिनटेक कंपनी के सहयोगी बैंक पर कुछ प्रतिबंध लगाए हों पर इससे कंपनी के परिचालन पर कोई असर नहीं पड़ा और आपका पसंदीदा एप जैसे अभी काम कर रहा है, हमेशा यानी 29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा।

पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा, “पेटीएम टीम के हर सदस्य के साथ आपके अथक समर्थन के लिए आपको सलाम करता हूं। हर चुनौती के लिए, एक समाधान है और हम ईमानदारी से अपने राष्ट्र की सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.