जानिए राघव और परिणीति क्या बनाना चाहते थे

अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा और आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा इन दिनों सुर्खियों में हैं। वजह सभी को पता है। दोनों ने अपने जीवन के एक नए अध्याय में प्रवेश किया है। 24 सितंबर को उदयपुर में एक भव्य समारोह में दोनों ने पूरे रीति-रिवाज से एक-दूजे को हमसफर बनाया है। अभिनेत्री और नेता की यह जोड़ी सभी को खूब पसंद आई है। इन दोनों की प्रेम कहानी, मौजूदा व्यवसाय और तमाम जानकारियों से तो आप वाकिफ हो चुके हैं! लेकिन, क्या आपको पता है दोनों जिस व्यवसाय में हैं, वहां आना सिर्फ इनके लिए एक किस्मत कनेक्शन वाली बात रही। हकीकत में तो इन दोनों के सपने काफी अलग थे। आइए जानते हैं…

राघव बना चाहता था सेना का जवान

11 नवंबर 1988 में दिल्ली में जन्मे राघव चड्ढा आम आदमी पार्टी का दमदार चेहरा बन चुके हैं। राजनीति में उन्होंने अपने पैर अच्छी तरह जमा लिए हैं। मगर, राजनीति में आना उनका सपना नहीं था। वह तो सेना में भर्ती होकर देशसेवा करना चाहते थे। एक बार एक इंटरव्यू में राघव ने खुद इस बात का खुलासा किया था। राघव चड्ढा की स्कूली शिक्षा दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) से पूरी हुई है। बचपन से ही वह स्कूल की पढ़ाई से अतिरिक्त गतिविधियों में बढ-चढ़कर हिस्सा लिया करते। भाषण प्रतियोगिता, नाटक-मंचन में उनकी हिस्सेदारी होती। नौवीं कक्षा में थे, तब नेताजी सुभाषचंद्र बोस का किरदार बखूबी अदा किया, जिसके लिए उन्हें पुरस्कार मिला था। राघव चड्ढा का सपना भारतीय सेना में जाकर देशसेवा करना था। लेकिन, फिर उन्होंने सीए बनने की राह चुनी। 2009 में डीयू से कॉमर्स में स्नातक करने के बाद राघव ने 2011 में सीए की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद डेलॉइट और ग्रांट थॉर्नटन जैसी बड़ी कंपनियों में काम किया।

अन्ना आंदोलन से जुड़कर शुरू की राजनीतिक पारी
देश के सबसे युवा राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा पेशे से चार्टज अकाउंटेंट (सीए) हैं। राघव लंदन में अच्छी खासी सीए की प्रैक्टिस कर रहे थे। लेकिन, तभी अन्ना आंदोलन शुरू हुआ, जिसने राघव का ध्यान आकर्षित किया। इस बीच वह भारत आए और आम आदमी पार्टी जॉइन कर ली। शुरुआत में वह पार्टी से बतौर प्रवक्ता जुड़े। उस दौर में जब आप पार्टी अपनी शैशवावस्था में थी, तब उसके प्रवक्ताओं को टीवी पर अधिक समय नहीं मिलता था, लेकिन राघव ने अपनी प्रभावी भाषण शैली और तेज-तर्रार तेवर से अपनी अच्छी धाक जमाई और देखते ही देखते वह मजबूत प्रवक्ता के रूप में उभरे। वह लगातार टीवी डिबेट में जाने लगे। 2019 में राघव ने चुनावी मैदान में ताल ठोकी और साउथ दिल्ली की सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा। हालांकि, भाजपा के रमेश बिधूड़ी के आगे राघव अपनी सीट निकाल पाने में नाकामयाब रहे। इसके बाद 2020 में राजिंदर नगर से विधानसभा चुनाव लड़ा और इस बार जीत गए। 2022 में पार्टी ने राघव को पंजाब से राजसभा सांसद बनाया। राघव वर्तमान में पंजाब सरकार के एक सलाहकार पैनल के अध्यक्ष भी हैं।

इतनी संपत्ति के मालिक हैं राघव
2016 में राघव दिल्ली गृहमंत्री के एडवाइजर थे। नौकरी से हटने के बाद उन्होंने अपना वेतन गृह मंत्रालय को वापस कर दिया था। 2022 में राघव लैक्मे फैशन शो में डिजाइनर पवन सचदेवा के लिए रैंप वॉक भी कर चुके हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राघव की कुल संपत्ति करीब 50 लाख रूपये है। चलिए अब जानते हैं नई-नवेली दुल्हन परिणीति के बारे में…

बैंकिंग की दुनिया में जमाना चाहती थीं सिक्का
22 अक्तूबर 1988 को हरियाणा के अंबाला में जन्मी परिणीति चोपड़ा पढ़ाई में हमेशा अव्वल रहीं। अपनी प्रतिभा के हिसाब से उन्होंने सपना भी देखा। परिणीति हीरोइन नहीं, बल्कि इनवेस्टमेंट बैंकर बनना चाहती थीं। एक इंटरव्यू के दौरान परिणीति ने यह बताया था। लेकिन, कहते हैं न कि किस्मत का भी कुछ कनेक्शन होता है। परिणीति के पास मैनचेस्टर बिजनेस स्कूल से ट्रिपल ऑनर्स डिग्री की है। एक इंटरव्यू के दौरान परिणीति ने बताया था कि जिस वक्त उन्होंने मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया, तब वह वहां इकलौती भारतीय थीं। रिपोर्ट्स के मुताबिक पढ़ाई के बाद परिणीति मैनचेस्टर में नौकरी कर रही थीं, तभी वहां मंदी आ गई और फिर उन्हें कोई काम नहीं मिला। उन पर 50 लाख रूपये का लोन भी था। ऐसे में वह तुरंत बैग पैक करके मुंबई चली आईं।

प्रशिक्षित शास्त्रीय गायिका हैं परिणीति
मुंबई आकर परिणीति ने यशराज स्टूडियो में इंटर्नशिप शुरू की। फिर यशराज फिल्म्स में ही पीआर विभाग में काम करने लगीं। उस दौरान वह रानी मुखर्जी की निजी सलाहकार भी रहीं। फिल्म ‘बैंड बाजा बारात’ के पीआर की बागडोर भी परिणीति ने संभाली थी। इस दौरान उन्होंने फिल्म के काम को बारीकी से सीखा और एक दिन यशराज फिल्म्स में उन्होंने एक फिल्म के लिए ऑडिशन दिया। इस तरह करियर यात्रा शुरू हुई। उन्होंने ‘लेडीज वर्सेज रिकी बहल’ (2011) फिल्म से बॉलीवुड जगत में कदम रखा था। जल्दी ही परी को सफलता भी मिल गई। अपनी दूसरी ही फिल्म ‘इशकजादे’ के लिए अभिनेत्री को राष्ट्रीय पुरस्कार (स्पेशल मेंशन) मिला। अभिनेत्री होने के साथ-साथ परिणीति शास्त्रीय गायिका भी हैं, जिसका उन्होंने बाकायदा प्रशिक्षण ले रखा है। वह संगीत में स्नातक हैं।

राघव से ज्याद रईस हैं परिणीति!
परिणीति पढ़ाई में हमेशा आगे रहीं। 12वीं में वह इकॉनोमिक्स से नेशनल टॉप रहीं, जिसके लिए उन्हें राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया गया था। स्नातक के दौरान परी इंग्लैंड में थीं। उस दौराव वह वहां मैनचेस्टर यूनाइटेड फुटबॉल क्लब के लिए भी काम कर चुकी हैं। 2013 में वह फोर्ब्स इंडिया की टॉप-100 सेलिब्रिटी लिस्ट में भी अपनी जगह बना चुकी हैं। राघव की नेटवर्थ जहां 50 लाख रूपये बताई जा रही है, वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक परिणीति की कुल नेटवर्थ करीब 60 करोड़ रूपये है।

ऐसे हुई थी पहली मुलाकात
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राघव चड्ढा और परिणीति की पहली मुलाकात इस साल जनवरी के महीने में हुई थी। दोनों लंदन में आयोजित हुए ‘इंडिया यूके अचीवर सम्मान’ में अपने-अपने फील्ड में अच्छा परफॉर्म करने के लिए पुरस्कार लेने पहुंचे थे।आपको बता दें कि यूनाईटेड किंगडम में जो भारतीय छात्र अपने फील्ड में महारथी होते हैं, उन्हें बढ़ावा देने और प्रेरित करने के लिए अवॉर्ड से सम्मानित किया जाता है। यहां मुलाकात के बाद दोनों की दोस्ती हुई और दोस्ती प्यार में तब्दील हुई। कुछ महीनों तक एक-दूसरे को डेट करने के बाद दोनों ने साथ जिंदगी बिताने का फैसला किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.