नरेंद्र मोदी स्टेडियम अहमदाबाद में आज से विश्व कप का आगाज…

पिछले वनडे विश्व कप की तरह इस बार भी 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं। भारत के 10 शहरों में टूर्नामेंट के 48 मैच खेले जाएंगे। पहला मैच पांच अक्तूबर (गुरुवार) को इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा।

आज से विश्व कप का आगाज होने जा रहा है। पांच अक्तूबर को मौजूदा विश्व चैंपियन इंग्लैंड और उपविजेता न्यूजीलैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में मैच से टूर्नामेंट की शुरुआत होगी। राउंड रॉबिन स्टेज में 45 मुकाबले खेले जाएंगे, जबकि तीन मुकाबले नॉकआउट स्टेज के होंगे। यानी कुल 48 मैच खेले जाएंगे। 19 नवंबर को टूर्नामेंट का फाइनल खेला जाएगा। यह वनडे विश्व कप का 13वां संस्करण है। आइए हम इस टूर्नामेंट से जुड़ी हर जानकारी 17 पॉइंट्स में समझते हैं…

  1. कितनी टीमें हिस्सा ले रहीं और कुल कितने मैच होंगे?
    पिछले वनडे विश्व कप की तरह इस बार भी 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं। मेजबान भारत के अलावा डिफेंडिंग चैंपियन इंग्लैंड, उपविजेता न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और नीदरलैंड भी टूर्नामेंट खेलती दिखेंगी। श्रीलंका और नीदरलैंड ने क्वालिफिकेशन राउंड पार कर अंतिम-10 में जगह बनाई है। दो बार की विश्व चैंपियन टीम वेस्टइंडीज पहली बार क्वालिफाई नहीं कर सकी। 2019 विश्व कप की तरह सभी 10 टीमें राउंड-रॉबिन फॉर्मेट में एक-दूसरे से भिड़ेंगी। एक टीम राउंड रॉबिन फॉर्मेट में कुल नौ मैच खेलेगी। यानी लीग स्टेज में कुल 45 मुकाबले होंगे। इसके बाद दो सेमीफाइनल मैच और एक फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। लीग राउंड के 45 में से 39 मुकाबले डे-नाइट होंगे, जबकि छह मैच दिन के रहेंगे।
  2. कहां-कहां खेले जाएंगे मुकाबले?
    भारत के 10 शहरों में टूर्नामेंट के 48 मैच खेले जाएंगे। हैदराबाद में तीन मैच, बाकी नौ शहरों यानी अहमदाबाद, धर्मशाला, दिल्ली, चेन्नई, लखनऊ, पुणे, बेंगलुरु, मुंबई और कोलकाता में पांच-पांच मुकाबले खेले जाएंगे। हैदराबाद, तिरुअनंतपुरम और गुवाहाटी को वॉर्म अप मैचों का वेन्यू चुना गया था
  3. पहला मैच कब और किनके बीच होगा?
    पहला मैच पांच अक्तूबर (गुरुवार) को इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा। लीग स्टेज के 45 मुकाबले 12 नवंबर तक खेले जाएंगे। भारत और नीदरलैंड के बीच बेंगलुरु में आखिरी लीग मैच होगा।
  4. भारत का शेड्यूल क्या है?
    भारतीय टीम विश्व कप में अपना पहला मैच आठ अक्तूबर को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलेगी। यह मुकाबला चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेला जाएगा। वहीं, भारत का पाकिस्तान से मैच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के बाद अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका और आखिरी ग्रुप मैच नीदरलैंड के खिलाफ खेलेगी।
  5. सेमीफाइनल के लिए भारत-पाकिस्तान के नियम
    पहला सेमीफाइनल 15 नवंबर को मुंबई में और दूसरा सेमीफाइनल 16 नवंबर को कोलकाता में खेला जाएगा। भारतीय टीम अगर सेमीफाइनल में पहुंचती है तो वह अपना मुकाबला मुंबई में खेलेगी। वहीं, अगर पाकिस्तान की टीम सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाब रहती है तो वह कोलकाता में खेलेगी। अगर सेमीफाइनल में भारत और पाकिस्तान का मुकाबला होता है तो टीम इंडिया को भी कोलकाता में ही खेलना होगा। आईसीसी ने यह नियम शेड्यूल जारी करते वक्त तय कर दिया था।
  6. सेमीफाइनल के लिए टीमें कैसे क्वालिफाई करेंगी?
    राउंड रॉबिन फॉर्मेट में एक मैच जीतने पर टीमों को दो अंक मिलेंगे। अंक तालिका की शीर्ष चार टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई करेंगी। सेमीफाइनल जीतने वाली टीमों के बीच 19 नवंबर को अहमदाबाद में फाइनल होगा।
  7. बारिश से मैच रद्द होने पर क्या होगा?
    राउंड रॉबिन स्टेज में बारिश या किसी और कारण से मुकाबला रद्द होता है तो दोनों टीमों को एक-एक अंक मिलेगा। वहीं, सेमीफाइनल और फाइनल रद्द होने पर रिजर्व डे की व्यवस्था की गई है। ये मैच बारिश की वजह से जहां रुकेगा, रिजर्व डे पर उसी स्कोर उसी स्थान से खेल शुरू होगा।
  8. रिजर्व डे पर भी खेल नहीं हो सका तो क्या होगा?
    सेमीफाइनल में अगर किसी कारण से रिजर्व डे पर भी मैच नहीं हो सका तो लीग राउंड के दौरान अंक तालिका में बेहतर करने वाली टीम फाइनल के लिए क्वालिफाई करेगी। वहीं, अगर बारिश या किसी और कारण से फाइनल मुकाबला भी अगर रिजर्व डे पर पूरा नहीं हो सका तो दोनों टीमों को संयुक्त विजेता माना जाएगा और विजेता की ट्रॉफी साझा की जाएगी।
  9. सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए टीमों को कितने अंक जरूरी?
    2019 वनडे विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया और भारत ने सबसे ज्यादा सात-सात मुकाबले जीते थे। भारतीय टीम तब 15 अंक लेकर अंक तालिका में शीर्ष पर रही थी। एक मैच में टीम इंडिया को शिकस्त मिली थी और एक मैच बेनतीजा रहा था। ऑस्ट्रेलिया ने सात मैच जीते थे और दो में हार मिली थी। कंगारू अंक तालिका में दूसरे स्थान पर रहे थे। दोनों सेमीफाइनल में पहुंचे थे। इस बार भी सात जीत से टीम की शीर्ष चार में जगह लगभग पक्की हो जाएगी। इससे कम मैच जीतने पर टीमों के नेट रन रेट पर निर्भर रहना पड़ सकता है। 2019 में इंग्लैंड 12 अंक लेकर तीसरे स्थान पर रहा था। वहीं, न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के 11-11 अंक थे, लेकिन बेहतर रन रेट के कारण न्यूजीलैंड ने सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई किया था।
  10. दो टीमों के अंक और नेट रन रेट दोनों बराबर रहे तो कौन क्वालिफाई करेगा?
    जैसे मान लेते हैं कि भारत और पाकिस्तान दोनों ही टीमों के पास 12-12 अंक हैं और उनका नेट रन रेट भी बराबर है। इस स्थिति में दोनों के बीच लीग स्टेज के दौरान हुए मुकाबले को जीतने वाली टीम सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई करेगी। अगर दोनों टीमों के बीच लीग मैच रद्द रहा तो भारतीय टीम क्वालिफाई करेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (ICC) की सुपर लीग टेबल में भारत छठे और पाकिस्तान सातवें नंबर पर है। सुपर-लीग की अंक तालिका में दोनों टीमों ने इन स्थानों पर रहे थे। यानी सुपर लीग की अंक तालिका का भी इस्तेमाल किया जाएगा।
  11. मैच टाई होने पर क्या होगा?
    लीग या नॉकआउट स्टेज में मुकाबला अगर टाई रहा तो विजेता का फैसला करने के लिए सुपर ओवर का इस्तेमाल होगा। मैच खत्म होने के कुछ मिनटों बाद ही सुपर ओवर शुरू हो जाएगा। मैच के दौरान बाद में बैटिंग करने वाली टीम को सुपरओवर में पहले बैटिंग करने का मौका मिलता है। सुपर ओवर में दोनों ही टीमें एक-एक ओवर बल्लेबाजी करती। इसमें बॉलिंग टीम का एक ही गेंदबाज छह गेंदें फेंकता है और बैटिंग टीम से तीन ही बल्लेबाज खेलने आ सकते हैं। ज्यादा रन बनाकर सुपर ओवर जीतने वाली टीम को विजेता माना जाता है।
  12. सुपर ओवर भी टाई हुआ तो क्या होगा?
    सुपर ओवर भी अगर टाई हो गया तो जब तक विजेता का फैसला नहीं हो जाता तब तक सुपर ओवर ही खेले जाएंगे। अगर बारिश के कारण सुपर ओवर बीच में रुक गया तो लीग स्टेज में दोनों ही टीमों को एक-एक अंक मिलेगा। सेमीफाइनल में अंक तालिका पर बेहतर करने वाली टीम को विजेता माना जाएगा। वहीं, फाइनल में सुपर ओवर पूरा नहीं हो सका तो दोनों टीमों को संयुक्त विजेता माना जाएगा।
  13. विजेता को कितने रुपए मिलेंगे?
    आईसीसी ने टूर्नामेंट में प्राइज मनी का बजट 82.93 करोड़ रुपये (10 मिलियन अमेरिकी डॉलर) रखा है। विजेता टीम को 33.17 करोड़ रुपये (चार मिलियन अमेरिकी डॉलर) मिलेंगे। फाइनल में हारने वाली टीम को 16.59 करोड़ रुपये (दो मिलियन अमेरिकी डॉलर) मिलेंगे। सेमीफाइनल में हारने वाली हर टीम को 6.65 करोड़ रुपए मिलेंगे। लीग स्टेज से ही बाहर होने वाली छह टीमों में सभी को 83.23 लाख रुपए मिलेंगे। वहीं ग्रुप स्टेज में हर एक मैच जीतने पर टीमों को 33.29 लाख रुपए की राशि दी जाएगी। इनके अलावा प्लेयर ऑफ द मैच, प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट, बेस्ट बैटर और बेस्ट बॉलर का अवॉर्ड जीतने वाले खिलाड़ियों को अलग से प्राइज मनी दी जाएगी।
  14. कहां देख सकेंगे मैच?
    अमर उजाला एप और वेबसाइट पर हर मैच की लाइव रिपोर्ट और स्कोर देख सकते हैं। विश्व कप के मैचों का सीधा प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर होगा। प्रशंसक स्टार स्पोर्ट्स के चैनलों पर अलग-अलग भाषा में मैच का आनंद ले सकते हैं। विश्व कप के मैच ऑनलाइन आप डिज्नी + हॉटस्टार एप (Disney+ Hotstar) पर देख सकते हैं। मोबाइल पर आप फ्री में मैच देख सकेंगे। लैपटॉप या स्मार्ट टीवी पर देखने के लिए पैसे देकर सब्सक्रिप्शन लेने पड़ेंगे।
  15. नौ देशों के 16 अंपायर रहेंगे
    भारत के नितिन मेनन और कुमार धर्मसेना पांच अक्तूबर को इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच विश्व कप के पहले मैच में अंपायरिंग करते दिखेंगे। टूर्नामेंट के 13वें संस्करण में नौ देशों के 16 अंपायर अंपायरिंग करेंगे, जिसमें आईसीसी के एमिरेट्स एलीट पैनल के सभी 12 अंपायर और आईसीसी इमर्जिंग अंपायर पैनल के चार सदस्य शामिल हैं। सूची में लॉर्ड्स में 2019 के फाइनल के लिए नियुक्त किए गए चार अंपायरों में से तीन – धर्मसेना, मराइस इरास्मस और रॉड टकर शामिल हैं। इस सूची से केवल अलीम डार गायब हैं, जिन्होंने इस साल मार्च में एलीट पैनल से इस्तीफा दे दिया था। अंपायरों की लिस्ट में इंग्लैंड के चार, ऑस्ट्रेलिया के तीन, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका से दो-दो अंपायर रहेंगे। इनके अलावा श्रीलंका, भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और वेस्टइंडीज से भी एक-एक अंपायर है।

विश्व कप के लिए अंपायरों की लिस्टः क्रिस ब्राउन, कुमार धर्मसेना, मराइस इरास्मस, क्रिस गैफनी, माइकल गॉफ, एड्रियन होल्डस्टॉक, रिचर्ड इलिंगवर्थ, रिचर्ड केटलबोरो, नितिन मेनन, अहसान रजा, पॉल रीफेल, शरफुद्दौला इब्ने शैद, रॉड टकर, एलेक्स व्हार्फ, जोएल विल्सन और पॉल विल्सन।

  1. सभी टीमों का स्क्वॉड
    विश्व कप के लिए सभी 10 टीमों ने अपना स्क्वॉड जारी कर दिया है। 28 सितंबर तक स्क्वॉड में सुधार करने की अंतिम तारीख थी। इस दिन भारत और ऑस्ट्रेलिया ने अपनी टीमों में एक-एक बदलाव कर स्क्वॉड फाइनल कर दिया।
  2. ऑस्ट्रेलिया ने सबसे ज्यादा पांच बार खिताब जीता|
    वनडे वर्ल्ड कप का आयोजन 13वीं बार होने जा रहा है। इससे पहले 12 बार हुए टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया ने सबसे ज्यादा पांच बार खिताब जीता है। टीम ने 1987 में पहली बार भारत में ही इंग्लैंड को हराकर ट्रॉफी पर कब्जा किया था। वेस्टइंडीज और भारत की टीमें दो-दो बार चैंपियन बनी हैं। पाकिस्तान, श्रीलंका और इंग्लैंड ने एक-एक बार खिताब जीता है। इंग्लैंड की टीम डिफेंडिंग चैंपियन है। उसने 2019 में घरेलू मैदान पर न्यूजीलैंड को फाइनल में हराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.