कानपुर: सेना की वर्दी बनाने वाली फैक्टरी में लगी में भीषण आग..

भीषण आग की जानकारी होने पर सुबह पुलिस कमिश्नर आरके स्वर्णकार समेत अन्य अधिकारी भी मौके पर निरीक्षण के लिए पहुंचे। फिलहाल करीब एक दर्जन गाड़ियां आग पर काबू पाने का प्रयास कर रही हैं।

कानपुर में नौबस्ता के मछरिया में गुरुवार देर रात सेना की वर्दी बनाने वाली फैक्टरी में भीषण आग लग गई। फैक्टरी से आग लपटें उठती देख रास्ते से गुजर रही जेब्रा पुलिस की नजर पड़ी, तो आनन फानन में फायर ब्रिगेड को सूचना दी। मौके पर पहुंची किदवईनगर, फजलगंज फायर स्टेशन से चार गाड़ियों ने आग बुझाना शुरू किया।

आग की भयावहता देख शहर व आसपास के जिलों से कई फायर स्टेशनों से पहुंची करीब एक दर्जन गाड़ियां आग बुझाने में जुटी हुई हैं। नौबस्ता के केशव विहार कॉलोनी निवासी सुनील कुमार की संजयनगर में आर्मी सूट बनाने का कारखाना व गोदाम है। ऊपरी तल पर करीब 20 मजदूर भी रहते हैं।

गुरुवार देर रात करीब ढाई बजे भूतल में अचानक आग की लपटें उठने लगीं। कुछ ही देर में आग ने विकराल रूप ले लिया। इसपर मजदूर जान बचाकर छत पर भागे। इधर रास्ते से गुजर रही जेब्रा ने लपटें उठती देखा, तो फायर ब्रिगेड को सूचना दी। फायर ब्रिगेड के जवानों ने मजदूरों का रेस्क्यू करने के बाद आग बुझाना शुरू किया।


एक दर्जन से अधिक गाड़ियां मौजूद, पड़ोसियों की गल गईं पानी की टंकियां
भीषण आग की जानकारी होने पर सुबह पुलिस कमिश्नर आरके स्वर्णकार समेत अन्य अधिकारी भी मौके पर निरीक्षण के लिए पहुंचे। फिलहाल करीब एक दर्जन गाड़ियां आग पर काबू पाने का प्रयास कर रही हैं। फैक्टरी रिहाइशी इलाके में बनी हुई है। अंदर कैमिकल रखा होने से आग ने कुछ ही देर में विकराल रूप धारण कर लिया।


फैक्टरी में एक के बाद एक कई सिलेंडर फटे
स्थानीय लोगों के मुताबिक फैक्ट्री में 20 मजदूर परमानेंट रहते हैं। जो खाना बनाने के लिए छोटा सिलेंडर का प्रयोग करते थे। आग से एक के बाद एक कोई सिलेंडर फटने से इलाके में दहशत फैल गई। लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। वही दमकल गर्मियों ने स्थानीय पुलिस की मदद से 50 से अधिक मकान को खाली कराया।
रिहायशी इलाके में अवैध रूप से फैक्टरी संचालित हो रही थी। घटना में कोई जनहानि नहीं है। फैक्टरी मालिक को नोटिस देकर जवाब तलब किया जाएगा। -दीपक कुमार, चीफ फायर ऑफिसर


मिलिट्री इंटेलीजेंस के भी लोग पहुंचे
सूत्रों के अनुसार सेवा की वर्दी बनाने वाली फैक्टरी में लगी आग और धमाके की सूचना पर फोरेंसिक टीम, स्क्वाड के साथ मिलिट्री इंटेलिजेंस के लोग भी वहां पहुंचे। वहां जांच पड़ताल के पास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.