जानिए दिल की बीमारियों के लिए कौन से फल खाए?

कोलेस्ट्रॉल इस समय लोगों के शरीर में सबसे बड़ा हिस्सा बना हुआ है. जिससे काफी लोग परेशान है. खराब और अनहेल्दी डाइट की वजह से बॉडी में कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है। इस टाइम कोलेस्ट्रॉल के मरीज सबसे अधिक बढ़ रहे है, दरअसल आपके बॉडी में कोलेस्ट्रॉल तब बढ़ता है, जब शरीर में अनहेल्दी फैट और ट्राइग्लिसराइड के कण बढ़ बढ़ने लगते है और धमनियों से चिपकने लगते हैं। इस तरह से ये रुधिर वाहिनियों के रास्ते में ब्लॉकेज पैदा करता है और दिल की बीमारियों के लिए खतरा बढ़ाता है। ऐसे में भोजन में आपको फलों को शामिल करना फायदेमंद हो सकता है. जिनमें वासोडिलेटर गुण है जैसे कि सीताफल ( Custar Apple) है। ये फल हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करने के साथ – साथ दिल के कई बीमारियों से बचा सकता है।

हाई कोलेस्ट्रॉल बढ़ने में सीताफल के फायदे

वासोडिलेटर्स Vasodilator गुणों से भरा है सीताफल, वासोडिलेटर्स ऐसी दवा हैं जो रक्त वाहिकाओं को खोलती हैं, जिसे डाइलेट भी कहा जाता है। वासोडिलेटर धमनियों और नसों की मांसपेशियों को हेल्दी रखते हैं और कोलेस्ट्ऱॉल के कणों से बचाते हैं। ये शरीर में मांसपेशियों को कसने और दीवारों को सिकुड़ने से रोकने में मदद करता है और ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर ढंग से बनाकर दिल की बीमारियों पर रोक लगाता है. इससे नसों की ब्लॉकेज का खतरा कम होता है।
सीताफल हाई फाइबर और नियासिन से भरपूर
सीताफल को भोजन के साथ सेवन करने बहुत फायदा होता है, जिसमे में फाइबर और नियासिन होता है जो बॉडी में अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाकर खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। और ये दिल की बीमारियों के खतरे को तेजी से कम करता है। फैट पचाने की गति को तेज करता है. सीताफल दिल के दौरे के लिए सबसे फायदेमंद है और हार्ट के मरीजों को इस फल को रोजाना सेवन करना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.