चौकी प्रभारी ने घरेलू विवाद के चलते गर्भवती पत्नी पर सर्विस रिवाल्वर से मारी गोली

झांसी के बंगरा चौकी प्रभारी शशांक मिश्र ने घरेलू विवाद के चलते गर्भवती पत्नी पर सर्विस रिवाल्वर से दनादन तीन गोलियां दाग दीं। दो गोली पत्नी के बाएं हाथ में जा धंसी। खून से लथपथ पत्नी ने पड़ोसी के यहां शरण लेकर किसी तरह जान बचाई। दरोगा रिवाल्वर समेत फरार हो गया। हालांकि कुछ घंटे बाद ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

घायल पत्नी को मेडिकल कॉलेज के आईसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया। यहां अब उसकी हालत खतरे से बाहर है। उधर, एसएसपी राजेश एस ने आरोपी चौकी प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। थाना उल्दन के अंतर्गत आने वाली बंगरा चौकी में पिछले माह ही उपनिरीक्षक शशांक मिश्र तैनात किए गए थे।

दरोगा अपनी पत्नी शालिनी (28) के साथ पुलिस चौकी से थोड़ी दूर पर एक चिकित्सक के यहां किराए के मकान में रहते हैं। घायल शालिनी ने पुलिस को बताया कि रविवार रात करीब 11.45 बजे चौकी प्रभारी शशांक मिश्र झांसी में अपनी मां से मिलकर बंगरा लौटे थे। उस समय शशांक के हाव-भाव बदले हुए थे।

घर आकर वह बिस्तर पर लेटकर मोबाइल चलाने लगे। यह देख उसने कहा वह गर्भवती है उसका हाल-चाल पूछने के बजाय मोबाइल चलाने लगे। उसने हल्के से शशांक की पीठ पर थपकी मार दी। इसी बात से शशांक नाराज हो गए।
कहने लगे तुमने मुझे मारा और मेज पर रखी सर्विस रिवाल्वर उसके ऊपर तान दी। जब तक वह कुछ समझ पाती, शशांक ने दनादन तीन फायर उसके ऊपर झोंक दिए। दो गोली दाएं
हाथ में कोहनी से ऊपर लगीं जबकि एक गोली कंधे को छूते हुए पीछे निकल गई।

गोली लगते ही शालिनी खून से लथपथ हो गई। जान बचाने को वह बाहर की ओर भागी और पड़ोस के घर में घुस गई। शशांक भी पीछे-पीछे रिवाल्वर लेकर पहुंच गया। यहां से शालिनी ने सबसे पहले अपने छोटे मामा को फोन करके घटना की जानकारी दी।

पड़ोसियों ने दरोगा से छीनी रिवाल्वर
शोर-शराबा सुनकर आसपास के लोग भी जमा हो गए। पड़ोसियों ने किसी तरह समझा-बुझाकर दरोगा से रिवाल्वर छीनी। इसके बाद आधी रात करीब 1:20 मिनट पर घायल शालिनी को पड़ोसी लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंचे। यहां शालिनी को आईसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया।

उस समय तक दरोगा शशांक भी उनके साथ था। शालिनी के भर्ती होने के बाद शशांक भाग निकला। उधर, दरोगा के गोली चलाने की खबर से पुलिस अफसरों में खलबली मच गई। सीओ टहरौली आलोक अग्रहरि, उल्दन थाना प्रभारी मुकेश कुमार सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। फोरेंसिक टीम को भी बुला लिया गया।

आरोपी दरोगा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज
जांच-पड़ताल करके फोरेंसिक टीम ने पूरे कमरे को सील कर दिया। आरोपी दरोगा के खिलाफ नवाबाद थाने में नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। एसएसपी राजेश एस ने आरोपी दरोगा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। आरोपी दरोगा की रिवाल्वर को भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.