अकसर इन वजहों से होती है ब्लोटिंग की समस्या, ऐसे पाएं इससे राहत

ब्लोटिंग की समस्या होने से पेट में दर्द और सीने में जलन सी महसूस होती है। इसमें भी पेट पर दबाव या पेट टाइट जैसा महसूस होता है। ये गैस या पीरियड क्रैंप जैसा दर्द देते हैं। कुछ लोगों को ब्लोटिंग के दौरान अपना पेट सूजा हुआ दिखता है। इसके कई कारण हो सकते हैं और सभी की जानकारी के साथ उपचार पता होना बहुत जरूरी है।

आइए जानते हैं ब्लोटिंग के मुख्य कारण

  • एसिड की कमी – पाचन प्रणाली में पर्याप्त मात्रा में एसिड मौजूद न होने के कारण खाना पच नहीं पाता है और शरीर को खाने का न्यूट्रिएंट नहीं मिल पाता है जिससे ब्लोटिंग और सीने में जलन होती है। एसिड कई कारणों से कम हो सकता है जैसे हाई शुगर डाइट, फूड सेंसिटिविटी, जिंक की कमी आदि।
  • कब्ज़ – अगर पेट नियमित रूप से साफ नहीं होता है, तो गट में मौजूद बैक्टीरिया स्टूल को और भी फर्मेन्ट कर सकते हैं। इससे एक्स्ट्रा गैस, प्रेशर और ब्लोटिंग की समस्या उत्पन्न होती है। दिन में कम से कम एक बार पेट साफ जरूर करें।
  • फूड सेंसिटिविटी – ग्लूटन और डेयरी से सबसे अधिक सेंसिटिविटी पाई जाती है। अपनी डाइट में से पिज्जा, कुकीज, केक, क्रेकर और प्रोसेस्ड फूड जैसी चीजें हटा दें। इसके अलावा बबल वाले ड्रिंक, जल्दी जल्दी खाना, एक बार में बड़ा मील खाने से भी यह समस्या हो सकती है।

ऐसे पाएं ब्लोटिंग से राहत

  • पानी कम पिएं – खाना खाते समय अधिक पानी न पीएं। पानी पेट में मौजूद एसिड को डाइल्यूट कर देता है, जिससे पाचन सही तरीके से नहीं हो पाता है और ब्लोटिंग की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  • स्ट्रेस करें कम – स्ट्रेस में शरीर फाइट या फ्लाइट के मोड में आ जाता है, जिससे पाचन प्रक्रिया बाधित हो जाती है। ये स्ट्रेस शारीरिक रूप से भी हो सकता है, जैसे नींद पूरी न होने के कारण या एक्सरसाइज न करने के कारण, ये इमोशनल भी हो सकता है, जिसमें मानसिक रूप से व्यक्ति किसी बात या काम के तनाव में रहता है या फिर स्ट्रेस किसी विशेष बीमारी या स्थिति के कारण भी हो सकता है। किसी भी प्रकार के स्ट्रेस को दूर रखने से पाचन शक्ति बढ़ती है और तब ब्लोटिंग नहीं होती है।
  • रेस्ट और डाइजेस्ट – खाना अच्छे से चबा कर खाएं और बैठ कर ही खाएं। इससे शरीर को रेस्ट और डाइजेस्ट का सिग्नल मिलेगा, जिससे आराम से खाना पचेगा और ब्लोटिंग जैसी समस्या उत्पन्न नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.