सुपर पावर देश में पहली बार होगा क्रिकेट विश्‍व कप

28.78 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी वाले दुनिया के सुपर पावर देश अमेरिका में अब कुछ दिन तक बेसबॉल और बास्‍केटबॉल नहीं बल्कि बैटबॉल का जलवा दिखेगा। अमेरिका और वेस्टइंडीज पहली बार मिलकर टी-20 क्रिकेट विश्व कप का आयोजन कर रहे हैं और आईसीसी इसी के जरिए अमेरिका में क्रिकेट को फैलाना चाहता है।

शनिवार (भारत में रविवार सुबह) से शुरू हो रहे फटाफट क्रिकेट के इस महासमर में पहली बार 20 टीमें हिस्सा लेंगी तो इसकी भव्यता देखने लायक होगी। इस टूर्नामेंट के जरिए अमेरिका में क्रिकेट का पदार्पण होने जा रहा है जहां 29 दिन के भीतर 55 में से 16 मैच खेले जाएंगे बाकी 39 मैच वेस्टइंडीज में होंगे जिनमें सुपर आठ चरण, सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबला भी शामिल है।

रोहित शर्मा की कप्तानी वाली भारतीय टीम यहां 13 वर्षों से कोई आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीतने की टीस मिटाने उतरेगी। भारत ने 2007 में टी-20 विश्व कप जीता था और उसके बाद से वह ट्रॉफी से दूर है। इस बार बतौर कप्तान रोहित की साख भी दांव पर है। पिछले 12 महीने में भारतीय टीम दो आईसीसी टूर्नामेंटों में उपविजेता रही और ऑस्ट्रेलिया के हाथों अपनी धरती पर पिछले साल वनडे विश्व कप फाइनल हारी थी।

अमेरिका-कनाडा के बीच होगी पहली भिड़ंत
अमेरिका में पहला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच 1844 में अमेरिका और कनाडा के बीच खेला गया। इसके बाद बेसबॉल ने यहां लोकप्रियता में क्रिकेट को काफी पीछे छोड़ दिया। अब बरसों बाद क्रिकेट वापसी की कोशिश में है तो पहला मैच डलास में अमेरिका और कनाडा के बीच ही खेला जाएगा। अमेरिका सह मेजबान होने के नाते विश्व कप में पदार्पण करेगा।

नंबर गेम

  • 2 जून से 29 जून तक खेले जाएंगे 55 मुकाबले
  • 9 जून को चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से भिड़ेगा भारत
  • 20 टीमों को पांच-पांच के चार ग्रुप में बांटा गया है
  • 2 टीमें हर ग्रुप से सुपर आठ के लिए क्वालीफाई करेगी
  • 27 जून को खेले जाएंगे दोनों सेमीफाइनल
  • 29 जून को खेला जाएगा खिताबी मुकाबला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.