संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य बना पाकिस्तान

पाकिस्तान समेत पांच देशों को गुरुवार को 2025 से शुरू होने वाले दो साल के कार्यकाल के लिए अस्थायी सदस्य चुन लिया गया। 193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा ने गुप्त मतदान के माध्यम से रिक्त पांच सीटों के लिए चुनाव किया।

अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा की जिम्मेदारी निभाने वाली संयुक्त राष्ट्र की महत्वपूर्ण इकाई सुरक्षा परिषद में पांच स्थायी और दस अस्थायी सदस्य होते हैं। अस्थायी सदस्यों की रिक्त पांच सीटों पर गुरुवार को चुनाव हुआ। चुनाव में पाकिस्तान, सोमालिया, डेनमार्क, ग्रीस और पनामा को अस्थायी सदस्य चुना गया।

अफ्रीकी और एशिया-प्रशांत देशों की दो सीटों के लिए सोमालिया को 179 और पाकिस्तान को 182 वोट मिले। लैटिन अमेरिकी और कैरिबियाई देशों के लिए पनामा को 183 और पश्चिमी यूरोपीय एवं अन्य देशों के लिए डेनमार्क को 184 और ग्रीस को 182 वोट मिले।

ये नवनिर्वाचित सदस्य देश जापान, मोजांबिक, इक्वाडोर, माल्टा और स्विटजरलैंड का स्थान लेंगे। इनका कार्यकाल 31 दिसंबर को समाप्त हो चुका है। पांचों नए सदस्यों का दो वर्षीय कार्यकाल एक जनवरी 2025 से शुरू होगा।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य चुने जाने पर खुशी जताई और इसे गौरव का क्षण बताया। उन्होंने एक्स पोस्ट कर कहा कि पाकिस्तान वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ करने के लिए उत्सुक है। हम देशों के बीच शांति, स्थिरता और सहयोग को बढ़ावा देने के लिए अपनी भूमिका निभाना जारी रखेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.