यूक्रेन जंग के लिए शांति सम्मेलन में भाग लेने को 90 देशों की स्वीकृति

स्विट्जरलैंड के बर्गेनस्टॉक में 15-16 जून को यूक्रेन पर होने वाले शांति सम्मेलन में भाग लेने के लिए 90 देशों के नेताओं और संगठनों ने स्वीकृति दे दी है। लेकिन इस बैठक में रूस को निमंत्रित नहीं किया गया है। इससे असहमत चीन ने सम्मेलन की सफलता पर सवाल उठाए हैं और सम्मेलन में शामिल होने की घोषणा नहीं की है।

भारत ने भी सम्मेलन में भाग लेने की अभी तक औपचारिक घोषणा नहीं की है। वैसे स्विट्जरलैंड सरकार ने सम्मेलन के लिए 160 देशों के नेताओं को आमंत्रित किया है। रूस ने इस सम्मेलन को पश्चिमी देशों के दुष्प्रचार का नया हथकंडा बताकर उसे खारिज कर दिया है।

इटली में होने वाली जी 7 समिट के बाद होगा शांति सम्मेलन
शांति सम्मेलन इटली में गुरुवार से होने वाली जी 7 समिट के बाद होगा। शांति सम्मेलन में अमेरिका की ओर से उप राष्ट्रपति कमला हैरिस भाग लेंगी। इस बीच सम्मेलन से पूर्व स्विट्जरलैंड के सरकारी विभागों और संस्थाओं पर अचानक साइबर हमले बढ़ गए हैं।

स्विट्जरलैंड ने रूसी राजदूत को तलब किया
यह जानकारी स्विट्जरलैंड की राष्ट्रपति वियोला एमहर्ड ने प्रेस कान्फ्रेंस में दी है। कहा कि स्विट्जरलैंड के खिलाफ रूसी मीडिया में चल रहे दुष्प्रचार पर पूछताछ के लिए रूसी राजदूत को तलब किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.