केन्या के एक स्कूल की 95 छात्राओं को एक साथ हुआ पैरालाइज!

दुनिया में कई अनोखे मामले सामने आते है जिसे समझने में विज्ञान को भी समय लग जाता है। कई बार लोगों में कोई अजीब बीमारी या अजीब बर्ताव हैरान कर देता है। हाल ही में केन्या के एक स्कूल में ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां के काकामेगा काउंटी में हाई स्कूल की लगभग 95 छात्राओं के साथ कुछ अजीब हुआ। किसी अनजान बीमारी के चलते एक साथ इन लड़कियों के शरीर का निचला हिस्सा पूरी तरह पैरालाइज हो गया है।

ये लड़कियां बीते कुछ सप्ताह से अस्पताल में है भर्ती
इस बीमारी ने लड़कियों के परिवारों को घबराहट और चिंता में डाल दिया है। स्थानीय मीडिया आउटलेट्स ने बताया कि अचानक इन लड़कियों के पैर सुन्न और गतिहीन हो गए हैं। केन्याई सोशल मीडिया पर वायरल क्लिप में लड़कियों को लगड़ाकर और लडख़ड़ाकर कर चलते हुए देखा जा सकता है।

काकामेगा काउंटी के स्वास्थ्य सीईसी बर्नार्ड वेसोन्गा ने पत्रकारों को बताया कि अज्ञात बीमारी का कारण समझने के लिए लड़कियों के ब्लड, यूरीन और स्टूल के सैंपल कलैक्ट किए गए हैं। इन्हें टेस्ट के लिए भेजा गया है, लेकिन अभी तक इसका सटीक कारण पता नहीं चल पाया है। घटना के बाद से स्कूल को अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया है।

पहले भी सामने आई है इस तरह की घटना
इस तरह की घटनाएं पहले भी सामने आ चुकी हैं. माना जाता है कि इस तरह की समस्या मास हिस्टीरिया की वजह से होती है. मास हिस्टीरिया एक ऐसी समस्या है जब किसी ग्रुप के लोग एक साथ अचानक असामान्य व्यवहार करने लगते हैं. उसमें एक जैसे स्वास्थ्य लक्षण या विचार और भावनाएं दिखाई देती हैं. एक्सपर्ट मानते हैं कि मास हिस्टीरिया एक प्रकार का कन्वर्जन डिसऑर्डर या मानसिक स्थिति है. ये एक तरह का मेंटल डिसऑर्डर या साइकोलॉजिकल प्रॉब्लम है. एक्सपर्ट का कहना है कि जब कोई व्यक्ति मानसिक तौर पर परेशान होता है तो अपनी तरफ ध्यान आकर्षित करना चाहता है. जिसके बाद असामान्य हरकतें करता है. इसमें एक व्यक्ति को ऐसा करते देख दूसरा, तीसरा और कई लोग असामान्य हरकतें कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.