वर्ल्ड कप 2023: विश्व कप में पहली बार बांग्लादेश ने श्रीलंका को हराया!

बांग्लादेश की टीम ने भारत में अपना चौथा वनडे जीता है। उसे 1998 में केन्या के खिलाफ छह विकेट से जीत मिली थी। 2006 में उसने जयपुर में जिम्बाब्वे को 101 रन से हराया था। 2023 में बांग्लादेश ने धर्मशाला में सात विकेट से परास्त किया था।

बांग्लादेश ने रोमांचक मुकाबले में श्रीलंका को हराकर विश्व कप के मौजूदा संस्करण में दूसरी जीत हासिल की। उसने लगातार छह हार के क्रम को तोड़ दिया। बांग्लादेश को इससे पहले अफगानिस्तान के खिलाफ जीत मिली थी। बांग्लादेश ने सोमवार (छह नवंबर) को नई दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में श्रीलंका को तीन विकेट से हरा दिया। उसने विश्व कप इतिहास में पहली बार श्रीलंका को हराया है। इस हार के साथ ही लंकाई टीम टूर्नामेंट में सेमीफाइनल के दौड़ से बाहर हो गई।

पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका की टीम 49.3 ओवर में 279 रन पर सिमट गई। बांग्लादेशी टीम ने 41.1 ओवर में सात विकेट पर 282 रन बनाकर मैच को अपने नाम कर लिया। बांग्लादेश ने वनडे में श्रीलंका के खिलाफ सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल किया। इतना ही नहीं, दिल्ली में यह किसी वनडे मैच में सबसे बड़ा रन चेज है। इससे पहले 1982 में भारत ने श्रीलंका के खिलाफ 278 रन बनाकर मैच को अपने नाम किया था।

भारत में बांग्लादेश की यह चौथी वनडे जीत
बांग्लादेश की टीम ने भारत में अपना चौथा वनडे जीता है। उसे 1998 में केन्या के खिलाफ छह विकेट से जीत मिली थी। 2006 में उसने जयपुर में जिम्बाब्वे को 101 रन से हराया था। 2023 में बांग्लादेश ने धर्मशाला में सात विकेट से परास्त किया था।

विवादों से भरा रहा मैच
एंजेलो मैथ्यूज को टाइम्ड आउट दिए जाने के बाद यह मुकाबला विवादों से भरा रहा। कुछ लंकाई खिलाड़ियों ने कथित रूप से मैच के बाद बांग्लादेशी खिलाड़ियों से हाथ तक नहीं मिलाया। यह मुकाबला क्रिकेट के इतिहास में पहले ‘टाइम आउट’ दिए जाने के रूप में याद किया जाएगा। मैथ्यूज को ‘टाइम आउट’ करार दिए जाने के पीछे जिम्मेदार बांग्लादेश के कप्तान शाकिब अल हसन और नजमुल हुसैन शांतो के बीच 147 गेंद में निभाई गई 169 रन की साझेदारी बांग्लादेश की जीत का कारण बनी। शाकिब ने दो विकेट लेने के बाद 65 गेंद में 87 और नजमुल ने 101 गेंद में 90 रन की पारी खेली। शाकिब को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

मैथ्यूज ने घड़ी पर अंगुली रख शाकिब को किया इशारा
बांग्लादेश की पारी के दौरान श्रीलंकाई टीम में टाइम आउट का गुस्सा साफ दिखाई दिया। पहले सदीरा विक्रमासिंघे और नजमुल हुसैन के बीच कहासुनी हुई। मैथ्यूज ने जब शाकिब को शॉर्ट कवर पर कैच कराया तो उन्होंने तुरंत अपनी अंगुली हाथ में बंधी घड़ी पर रखकर उनकी ओर इशारा किया। मैथ्यूज घड़ी पर हाथ रखकर शाकिब को टाइम आउट की याद दिला रहे थे। नजमुल के आउट होने के बाद श्रीलंका ने जल्द तीन और विकेट लिए, लेकिन उसे जीत नसीब नहीं हुई।

परेरा और मेंडिस का बल्ला नहीं चला
बांग्लादेश के कप्तान शाकिल अल हसन ने टॉस जीतकर श्रीलंका को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। कुसल परेरा (4) को शोरिफुल ने जल्दी आउट कर दिया। कप्तान मेंडिस (19) भी शाकिब का शिकार बने। निसांका (41) भी इसके बाद तुरंत आउट हो गए। श्रीलंका का स्कोर 72 पर तीन हो गया। यहां से सदीरा विक्रमासिंघे (41) और असालंका ने 63 रन की साझेदारी और यहीं से मैच में नाटकीय मोड़ आया। सदीरा के आउट होने के बाद एंजेलो मैथ्यूज को टाइम आउट दिया गया।

मैथ्यूज के आउट होने के बाद श्रीलंका का पलटवार
यहां से मैच में अलग मोड़ आ गया। असालंका और धनंजय डि सिल्वा (34) ने पलटवार करते हुए 82 गेंद में 78 रन की साझेदारी निभा डाली। स्पिनर महीश तीक्ष्णा (21) ने असालंका का जमकर साथ निभाया और 45 रन की साझेदारी करते हुए श्रीलंका को 250 के पार पहुंचा दिया। एक समय श्रीलंका इस स्कोर तक पहुंचता नहीं दिखाई दे रहा था। असालंका ने इसके बाद अपना शतक भी पूरा किया, लेकिन 49.3 ओवर में 279 रन पर श्रीलंका की पारी सिमट गई।

शाकिब-नजमुल ने बांग्लादेश को संभाला
280 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश की शुरुआत अच्छी नहीं रही। इस विश्वकप में शानदार प्रदर्शन करने वाले दिलशान मदुशंका ने तंजिद हसन (9) और लिटन दास (23) को जल्द आउट कर दिया। हालांकि इसके बाद नजमुल हुसैन शांतो और शाकिब अल हसन ने पारी को संभाल लिया। 18वें ओवर की पहली गेंद पर शाकिब ने मिडविकेट पर चौका लगाकर बांग्लादेश को 100 के पार पहुंचाया, लेकिन मैदान पर मैथ्यूज के आउट होने का कड़वाहट साफ दिखाई दी। सदीरा और नजमुल हुसैन के बीच आपस में कहासुनी भी हुई। मैथ्यूज भी शाकिब को गेंद डालने के दौरान पास जाकर कुछ कहते दिखे।

बांग्लादेश के लिए महमूदुल्ला ने 23 गेंद पर अहम 22 रन बनाए। मुशफिकुर रहीम ने 13 गेंद पर 10 रन बनाए। तौहीद ने सात गेंद पर नाबाद 15 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई। मेहदी हसन मिराज तीन रन ही बना सकी। तंजीम हसन साबिक पांच रन बनाकर नाबाद रहे। श्रीलंका के लिए दिलशान मदुशंका ने तीन विकेट लिए। महीश तीक्ष्णा और एंजेलो मैथ्यूज ने दो-दो विकेट लिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.