तमिलनाडु-आंध्र प्रदेश में तबाही मचाने के बाद कमजोर पड़ा चक्रवात मिचौंग, कई लोगों की हुई मौत

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बुधवार को बताया कि चक्रवात मिचौंग मध्य तटीय आंध्र प्रदेश के ऊपर गहरे दबाव के क्षेत्र में कमजोर हो गया है। चक्रवाती तूफान मिचौंग कमजोर होकर मध्य तटीय एपी पर गहरे दबाव में बदल गया। सेंट्रल कोस्टल एपी. बापटला से लगभग 100 किमी उत्तर-उत्तरपश्चिम और खम्मम से 50 किमी दक्षिणपूर्व में। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर आधिकारिक आईएमडी हैंडल की एक पोस्ट के मुताबिक अगले 06 घंटों में और कमजोर हो जाएगा और उसके अगले छह घंटों के दौरान एक WML में बदल जाएगा।

बता दें कि जैसे ही चक्रवात मिचौंग ने मंगलवार को दस्तक दी, चेन्नई में लगातार बारिश हुई, जबकि सोमवार से इसका प्रकोप काफी कम हो गया। मंगलवार, पांच दिसंबर को जारी एक विज्ञप्ति में, ग्रेटर चेन्नई पुलिस ने कहा कि शहर में चक्रवात के कारण आई बाढ़ के कारण विभिन्न घटनाओं में 17 लोगों की मौत की सूचना है।

पुलिस के अनुसार, डूबने और बिजली का झटका लगने की कम से कम 10 घटनाएं सामने आई हैं, जिनके लिए चिकित्सा सहायता प्रदान की गई। इससे पहले, मंगलवार को डीएमके सांसद कनिमोझी ने कहा था कि तमिलनाडु सरकार 2015 की तुलना में स्थिति से निपटने के लिए कहीं अधिक तैयार है, जब लगातार बारिश के कारण चेन्नई में बाढ़ आ गई थी, जिससे जानमाल का नुकसान हुआ था।

पिछले दो दिनों में 33 सेमी से अधिक बारिश
कनिमोझी ने मंगलवार को बताया ‘पिछले दो दिनों में, हमारे यहां 33 सेमी से अधिक बारिश हुई, जो कि 2015 की तुलना में बहुत अधिक है। हालांकि, सरकार इस बार स्थिति से निपटने के लिए बेहतर ढंग से सुसज्जित थी। कई लोगों को निचले इलाकों से निकाला गया है -झूठे इलाकों) और (राहत) आश्रयों में चले गए,’।

डीएमके सांसद ने कहा, 411 राहत आश्रयों की व्यवस्था पहले ही की जा चुकी है। अधिकांश इलाकों से पानी भी बाहर निकाल दिया गया है और 60-70 प्रतिशत से अधिक घरों में बिजली बहाल कर दी गई है।’

100 किमी की रफ्तार से मचाई तबाही
बंगाल की खाड़ी में उठा भीषण चक्रवाती तूफान मिचौंग मंगलवार दोपहर 100 किमी की गति से आंध्र प्रदेश में नेल्लोर और कवाली के बीच बापटला के पास तट से टकराया। इसके प्रभाव से आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों के अलावा चेन्नई में भी भारी बारिश हुई है।

चेन्नई के निचले इलाके पानी में डूब गए हैं। दोनों राज्यों में 70 से अधिक उड़ानें और करीब 200 ट्रेनों का संचालन रद्द करना पड़ा है। तटीय इलाकों से 10,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया है। ओडिशा के तटीय इलाकों में भी भारी बारिश हो रही है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरआफ) की 29 टीमों के साथ ही राज्य की विभिन्न एजेंसियां राहत और बचाव कार्य में जुटी हैं।

17 जिलों में जीवन अस्तव्यस्त भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, मिचौंग दोपहर 12:30 से 2:30 बजे के बीच तट से टकराया। उस समय समुद्र में एक से डेढ़ मीटर ऊंची लहरें उठ रही थीं और तेज हवाएं चल रही थीं।

आंध्र प्रदेश के आठ तटीय जिलों में जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया। आंध्र में नेल्लोर सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। विजयवाड़ा, तिरुपति व विशाखापट्टनम में हवाई यातायात और रेल सेवाओं पर असर पड़ा है। 51 उड़ानें व 100 से ज्यादा ट्रेनें रद्द हुईं। तमिलनाडु में भी 20 से ज्यादा उड़ानें व लगभग 100 ट्रेनें रद्द की गई हैं। हालांकि, चेन्नई एयरपोर्ट खोल दिया गया है। बारिश के चलते यहां 21 विमान और 1,500 से ज्यादा यात्री फंसे थे।

आमिर भी फंसे, निकाले गए
अभिनेता आमिर खान भी चेन्नई में पानी से घिरे इलाके में फंस गए थे। बचाव दल ने उन्हें सुरक्षित निकाला। तमिल अभिनेता विष्णु विशाल ने इसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर साझा की। विशाल भी चेन्नई के करपक्कम में अपने घर में फंस गए थे। आमिर अपनी बीमार मां के साथ रहने के लिए पिछले दिनों चेन्नई गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.