तमिलनाडु में भारी बारिश ने मचाई तबाही, ट्रेनों में फंसे 500 से अधिक यात्री

तमिलनाडु के दक्षिण जिलों में लगातार भारी बारिश हो रही है। भारी बारिश के कारण कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। लगातार हो रही बारिश के कारण रेल परिचालन पर भी असर पड़ा है। मूसलाधार बारिश के कारण बाढ़ जैसे हालात के बीच दक्षिण रेलवे के श्रीवैकुंटम रेलवे स्टेशन पर 800 से ज्यादा यात्री फंसे थे जिसमें से 300 यात्रियों को निकाला गया लेकिन अभी भी 500 यात्री फंसे हुए हैं।

दक्षिण रेलवे ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट कर जानकारी देते हुए बताया कि सभी फंसे हुए यात्रियों को निकालने के लिए रेलवे ठोस प्रयास कर रहा है। बारिश से हुए बाढ़ जैसे हालात को देखते हुए दक्षिण रेलवे ने कई ट्रेनों के रूट में भी बदलाव किया है।

भारतीय वायुसेना आपदा राहत कार्यों में कर रहा मदद
दक्षिणी तमिलनाडु में लगातार बारिश के कारण, भारतीय वायु सेना ने सोमवार को तमिलनाडु में अभूतपूर्व बाढ़ और बारिश से निपटने के लिए भारतीय सेना से हाथ मिलाया।

भारतीय वायु सेना ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, “18 दिसंबर को, तमिलनाडु में पिछले 24 घंटों में अभूतपूर्व बारिश हुई है। इस भारी बारिश से तिरुनेलवेली और थूथुकुडी जिलों में व्यापक बाढ़ आ गई। भारतीय वायुसेना ने तेजी से प्रतिक्रिया दी और वायु सेना स्टेशन सुलूर को मानवीय सहायता और आपदा राहत कार्यों का काम सौंपा गया जो वर्तमान में एमआई -17 वी5 हेलीकॉप्टर द्वारा किया जा रहा है।”

भारतीय सेना ने थूथुकुडी के वासवप्पापुरम इलाके से बाढ़ प्रभावित लोगों को बचाया। उन्होंने तमिलनाडु के वसईपुरम के बाढ़ प्रभावित इलाकों से 118 लोगों को बचाया। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के अधिकारियों ने तमिलनाडु के थूथुकुडी क्षेत्र में बचाव अभियान चलाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.