विदेशी मुद्रा भंडार में हुई 591 मिलियन अमेरिकी डॉलर की बढ़ोतरी

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने शुक्रवार को कहा कि 26 जनवरी को समाप्त सप्ताह में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 591 मिलियन अमेरिकी डॉलर बढ़कर 616.733 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया।

वहीं पिछले रिपोर्टिंग सप्ताह में, कुल भंडार 2.795 बिलियन अमेरिकी डॉलर गिरकर 616.143 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया था।

अक्टूबर 2021 में देश की विदेशी मुद्रा निधि 645 बिलियन अमेरिकी डॉलर के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गई थी। पिछले साल से वैश्विक विकास के कारण दबाव के बीच केंद्रीय बैंक ने रुपये की रक्षा के लिए निधि को तैनात किया था, जिससे भंडार प्रभावित हुआ।

विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़ोतरी
आंकड़ों में कहा गया है कि 26 जनवरी को समाप्त सप्ताह के लिए, विदेशी मुद्रा संपत्ति, भंडार का एक प्रमुख घटक, 289 मिलियन अमेरिकी डॉलर बढ़कर 546.144 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया।

डॉलर के संदर्भ में व्यक्त, विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों में विदेशी मुद्रा भंडार में रखे गए यूरो, पाउंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी इकाइयों की सराहना या मूल्यह्रास का प्रभाव शामिल होता है।

सोने का भंडार में बढ़ोतरी
आरबीआई ने कहा कि सप्ताह के दौरान सोने का भंडार 269 मिलियन अमेरिकी डॉलर बढ़कर 47.481 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया।

शीर्ष बैंक ने कहा कि विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) 27 मिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर 18.248 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गए।

आरबीआई के आंकड़ों से पता चलता है कि समीक्षाधीन सप्ताह में आईएमएफ के साथ भारत की आरक्षित स्थिति 6 मिलियन अमेरिकी डॉलर बढ़कर 4.86 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.