मुख्यमंत्री गहलोत का बड़ा फैसला, अब राजस्थान में भी होगा जाति आधारित सर्वेक्षण

राजस्थान चुनाव : बिहार में नीतीश सरकार के द्वारा जातीय जनगणना की रिपोर्ट जारी करने के बाद अब राजस्थान सरकार के तरफ रुख मोड़ लिया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार अब राजस्थान में जाति आधारित सर्वेक्षण करवाएगी। जिसके लिए राजस्थान सरकार ने शनिवार देर रात आदेश जारी कर दिया गया हैं.

बता दे कि राजस्थान में होने वाले 2023 विधानसभा चुनाव से पहले जाति आधारित सर्वेक्षण की रिपोर्ट जारी करने के लिए आदेश आया है. सीएम गहलोत ने पत्रकारों से इस संबंध में कहा था कि जल्द ही राजस्थान में भी जाति आधारित सर्वेक्षण की रिपोर्ट जारी की जाएगी। इस रिपोर्ट में राज्य की सभी नागरिकों के सामजिक, शैक्षणिक एंव आर्थिक स्थिति के सम्बंध में जानकारी एकत्रित की जाएगी। और राज्य सरकार सर्वे कराकर सभी वर्गों के पिछड़ेपन को समाप्त कर स्थिति जीवन स्तर में सुधार लाएगी।

कांग्रेस पार्टी ने अपनी निजी ‘एक्स’ एकाउंट पर एक पोस्ट करते हुए लिखा कि ‘‘राजस्थान की कांग्रेस सरकार जाति आधारित सर्वेक्षण कराएगी. कांग्रेस ‘जिसकी जितनी भागीदारी-उसकी उतनी हिस्सेदारी’ के अपने संकल्प पर काम कर रही है.’

सीएम गहलोत ने बिहार में नीतीश सरकर के बिहार मॉडल को देखते हुए राज्य राजस्थान में भी जातिगत सर्वेक्षण करवाएगी और यह सरकार के लिए एक बड़ा फैसला है. उन्होंने कहा था कि हम जल्द ही राज्य में जातिगत सर्वेक्षण कराएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.