जम्मू में महानवमी पर मंदिरों में भारी भीड़, विजयादशमी पर्व की तैयारियां अंतिम चरण में

नौ दिनों तक चले नवरात्र के अंतिम दिन मां भगवती की पूजा-अर्चना में इस्तेमाल पूजन सामग्री के साथ साख का विसर्जन किया जा रहा है। जम्मू में तवी नदी सहित अन्य नहरों के किनारे साख विसर्जन के लिए लोग पहुंचे।

जम्मू कश्मीर में शारदीय नवरात्रि की महानवमी पर मंदिरों और घरों में मां भगवती की पूजा आराधना के साथ ही हवन और आरती की गई। जम्मू व आसपास के क्षेत्र के मंदिरों में भक्तों की भारी भीड़ देखी गई। मां की आराधना का अंतिम दिन होने के कारण सुबह से ही भक्तों की लंबी कतार लगी रहीं। भक्तों ने घरों में भी विधि विधान से पूजन के साथ ही हवन किया। महानवमी पर कन्या पूजन के साथ सोमवार को नवरात्र संपन्न हो जाएंगे।

नौ दिनों तक चले नवरात्र के अंतिम दिन मां भगवती की पूजा-अर्चना में इस्तेमाल पूजन सामग्री के साथ साख का विसर्जन किया जा रहा है। जम्मू में तवी नदी सहित अन्य नहरों के किनारे साख विसर्जन के लिए लोग पहुंचे। जम्मू में देवी की भेंटों और मंत्रों से पूरा शहर भक्तिमय बना हुआ है। कई जगह भक्तों के द्वारा कन्या पूजन कर विधि विधान से आरती की गई।

मंदिरों के शहर जम्मू के बावे वाली माता, रघुनाथ मंदिर, पीर खो गुफा मंदिर, कोल कंडोली मंदिर सहित अन्य मंदिरों में देवी मंदिरों और पूजा पंडालों में भक्तों की भारी भीड़ जुट रही है। सुबह से ही हवन और पूजन का कार्यक्रम चल रहा है।

विजयादशमी की तैयारियां अंतिम चरण में

शहर में विजयादशमी पर्व की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। शहर के परेड ग्राउंड और गांधीनगर में दशहरा मैदान में विजयदशमी का पर्व मनाया जाएगा। यहां रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण के पुतले जलाए जाएंगे। परेड मैदान में सबसे बड़ा 60 फीट ऊंचा रावण का पुतला होगा, जिसे स्थापित करने का काम शुरू हो गया है। सोमवार को तीनों पुतलों को खड़े करने का काम पूरा हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.