4 दिसंबर तक तमिलनाडु तट को पार करेगा चक्रवात मिचौंग, मौसम विभाग का येलो अलर्ट

मौसम विभाग ( IMD) द्वारा येलो अलर्ट जारी किए जाने के बाद पुडुचेरी कराईकल और यनम में स्कूल बंद रहेंगे। चक्रवात मिचौंग ( Cyclone Michaung ) के 4 दिसंबर तक तमिलनाडु तट को पार करने की संभावना है। चक्रवात के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने 2 दिसंबर तक गहरे दबाव में बदलने और 3 दिसंबर के आसपास बंगाल की दक्षिण-पश्चिम खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है।

देश के दक्षिणी राज्यों में पिछले कुछ समय से तेज बारिश हो रही है। पिछले 24 घंटों के दौरान लगभग 43 मिमी तक मध्यम वर्षा दर्ज की जा चुकी है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अब भी चेन्नई में बारिश जारी रहने की उम्मीद जताई है।

दरअसल, कल से शहर पर बंगाल की खाड़ी में बन रहे आगामी चक्रवात का प्रभाव दिखाई देगा, जो अगले 24 घंटों में तमिलनाडु के करीब पहुंचेगा। इससे भारी से मध्यम बारिश देखने को मिल सकती है। IMD के मुताबिक, 3 दिसंबर तक तूफान के तट के करीब आने के कारण चेन्नई शहर में भारी से बहुत भारी बारिश होगी जो 4 दिसंबर को भी जारी रहेगी। वहीं, 3 और 4 दिसंबर के लिए आगामी चक्रवात मिचौंग के मद्देनजर उत्तरी तटीय तमिलनाडु के निवासियों के लिए येलो अलर्ट पहले ही जारी किया जा चुका है।

IMD का येलो अलर्ट जारी
IMD द्वारा ‘येलो’ अलर्ट जारी किए जाने के बाद पुडुचेरी, कराईकल और यानम में स्कूल बंद रहेंगे, क्योंकि चक्रवात मिचौंग के 4 दिसंबर तक तमिलनाडु तट को पार करने की संभावना है।

चक्रवात के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है, 2 दिसंबर तक एक गहरे दबाव में तब्दील हो जाएगा और 3 दिसंबर के आसपास बंगाल की दक्षिण-पश्चिम खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। इसके दिसंबर तक दक्षिण आंध्र प्रदेश और आसपास के उत्तरी तमिलनाडु तटों के पास पहुंचने की उम्मीद है।

तमिलनाडु के मुख्य सचिव ने की बैठक
इस बीच, तमिलनाडु के मुख्य सचिव शिव दास मीना ने बंगाल की खाड़ी में चक्रवात मिचौंग के आने से पहले तैयारियों का आकलन करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक समीक्षा बैठक की। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, 2 और 3 दिसंबर को पिचावरम बोटहाउस में यात्रियों और पर्यटकों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है।

क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र द्वारा अगले दो दिनों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की है, जिसके तहत तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने अधिकारियों से आवश्यक एहतियाती कदम उठाने का आग्रह किया है।

दिसंबर 2023 से फरवरी 2024 तक कैसा रहेगा तापमान?
मौसम विभाग के मुताबिक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, रायलसीमा, केरल और माहे और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक वाले दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में दिसंबर 2023 तक बारिश होने की उम्मीद है।

IMD ने बताया कि आगामी सर्दियों के मौसम (दिसंबर 2023 से फरवरी 2024) के दौरान, देश के अधिकांश हिस्सों में सामान्य से अधिक न्यूनतम तापमान होने की संभावना है। आगामी सर्दियों के मौसम (दिसंबर 2023 से फरवरी 2024) के दौरान, मध्य और उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ क्षेत्रों को छोड़कर, देश के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से ऊपर रहने की संभावना है।

हरियाणा के कई जिलों में बारिश
देश के कई राज्यों में बारिश हो रही है, जिससे तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। वहीं, हरियाणा के कई जिलों में बारिश हुई तो कहीं ओले गिरे, जिससे राज्य में ठंड (Haryana Cold Wave) का प्रकोप बढ़ गया है। बीते दिन भी कई जिलो में बारिश (Rain in Haryana) हुई। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो से तीन दिन बारिश की संभावना है। ऐसे ही मौसम बना रहेगा। रात के तापमान में भी गिरावट आई है।

हिमाचल के कुछ हिस्‍सों में बर्फबारी
हिमाचल के कुछ हिस्‍सों में बर्फबारी होने से प्रदेशवासी ठिठुरने लगे। आज प्रदेश में अधिकतर स्‍थानों पर मौसम के साफ रहने का अनुमान है। हालांकि कुछ स्थानों पर बादल छाए रहने, हिमपात व वर्षा की संभावना है। वहीं अधिकतम तापमान शिमला में 17 डिग्री और न्‍यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जाएगा।

उत्तराखंड में फिर बदला मौसम
उत्तराखंड में मौसम फिर शुष्क हो गया है। पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं-कहीं आंशिक बादल छाये रहे। मैदानी क्षेत्रों में चटख धूप खिलने से अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक बना हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिन प्रदेश में मौसम शुष्क रहने का अनुमान है। पहाड़ से लेकर मैदान तक चटख धूप खिल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.