बाल झड़ना, माइग्रेन, अपच जैसी कई समस्याएं होंगी दूर, सुबह-सुबह इस चाय का करें सेवन

सुबह-सुबह दूध वाली चाय पीने की जगह इस आयुर्वेदिक चाय से करें अपने दिन की शुरुआत। इससे आप सर्दी-जुकाम माइग्रेन वजन बढ़ना ब्लोटिंग अपच एसिडिटी जैसी कई समस्याओं को रख सकते हैं दूर। आइए जानते हैं इस चाय को बनाने का तरीका साथ ही इसमें इस्तेमाल होनेे वाली चीज़ों के क्या-क्या फायदे हैं। पूरी सर्दियां बने रहेंगे हेल्दी।

सर्दियां के जहां अपने मजे हैं, तो वहीं कुछ दिक्कतें भी। इस मौसम में सर्दी-जुकाम, माइग्रेन, बाल झड़ना जैसी परेशानियां हो सकती हैं। वहीं खाने-पीने के इतने ऑप्शन्स होते हैं कि बार-बार कुछ न कुछ खाने का दिल करता रहता है जिससे ब्लोटिंग, एसिडिटी और वजन बढ़ने की भी समस्याएं देखने को मिलती हैं। अगर आप बिना परेशान हुए सर्दियों का लुत्फ उठाना चाहते हैं, तो ज्यादा नहीं बस इस एक ड्रिंक से करें अपने दिन की शुरुआत। हर तरह की समस्याएं रहेंगी दूर।

इसके लिए आपको चाहिए
2 ग्लास पानी, 7-10 करी पत्ते, 3 अजवाइन की पत्ती, 1 टेबलस्पून धनिया के बीज, 1 टीस्पून जीरा, 1 इलायची कुटी हुई, 1 इंच अदरक के लच्छे (कद्दूकस किए हुए)

ऐसे बनाएं इसे

  • एक पैन में पानी डालकर गर्म होने दें।
  • जैसे में इसमें एक उबाल आ जाए, तब इसमें करी पत्ते, अजवायन की पत्ती, धनिया बीज, जीरा, इलायची और कद्दूकस किया अदरक डालें।
  • इसमें कम से कम पांच मिनट तक उबालें।
  • इसके बाद छानकर थोड़ा-थोड़ा करके पी लें।

इसमें मौजूद चीज़ों के फायदे
करी पत्ते- करी पत्ता हेयरफॉल, वजन कंट्रोल करता है। शुगर लेवल कम करता है और हीमोग्लोबिन सुधारता है।

अजवाइन के पत्ते- अजवाइन के पत्ते ब्लोटिंग, अपच, सर्दी-जुकाम, डायबिटीज, अस्थमा और वेट लॉस में मददगार हैं।

धनिया के बीज- धनिया के बीजों के सेवन से मेटाबॉलिज्म सुधरता है। इसके अलावा ये माइग्रेन, थायरॉइड और हार्मोनल डिस्बैलेंस को भी सुधारता है।

जीरा- ये शुगर, वेट लॉस, एसिडिटी, माइग्रेन, कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में फायदेमंद होता है।

इलायची- इलायची मोशन सिकनेस, उबकाई, माइग्रेन, हाई ब्लड प्रेशर के साथ ही बालों और स्किन के लिए भी बेहद असरदार है।

अदरक- अदरक में मौजूद तत्व अपच, गैस, वजन कम करने जैसी कई समस्याएं दूर करता है।

तो दूध वाली चाय की जगह इस इम्युनिटी बूस्टर ड्रिंक से करें अपने दिन की शुरुआत।

Leave a Reply

Your email address will not be published.