इन देसी उपायों से पाएं दाद खाज खुजली से जल्द राहत

दाद खाज खुजली एक फंगल इन्फेक्शन है, जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है। यह त्वचा के ऊपरी परत पर लाल और गोल चकत्ते के रूप में नजर आता है। जिसमें हर वक्त खुजली और जलन का एहसास होता है। इसकी सबसे बड़ी वजह साफ-सफाई की कमी होती है, जो सर्दियों में मौसम में बहुत ही आम होती है। ठंड की वजह से कई बार लोग दिनों दिन तक नहाते नहीं है जिस वजह से ये समस्या हो सकती है। वैसे यही एकमात्र वजह नहीं है, बल्कि बहुत ज्यादा मीठा या नमकीन खाने से, बासी भोजन करने से भी ये हो सकता है। इस समस्या को दूर करने में कुछ घरेलू उपाय हो सकते हैं कारगर। आइए जानते हैं इसके बारे में।

लहसुन
लहसुन में अजोइना नामक एक नेचुरल एंटी फंगल एजेंट होता है, जो फंगल इन्फेक्शन को दूर करने में मदद करता है। लहसुन की एक कली छीलकर उसकी पतली स्लाइस काट लें, खुजली वाली जगह पर इस कली को रखें और उसके चारों ओर एक पट्टी बांध दें। रातभर के लिए इसे छोड़ दें।

नारियल का तेल
नारियल का तेल भी स्किन को गहराई से मॉयश्चराइज करता है, जिससे ड्राईनेस दूर होती है। ड्राइनेस की वजह से ही खुजली होती है।

नीम का पानी
नीम का इस्तेमाल सदियों से स्किन से जुड़ी समस्याओं के लिए किया जाता रहा है। दाद खाज खुजली दूर करने के लिए नीम की पत्तियों को पानी में उबाल लें। फिर इसे ठंडा कर लें और इस पानी से नहाएं।

एलोवेरा
एलोवेरा एंटी-फंगल और एंटी बैक्टीरियल होता है। वैसे ऐलोेवेरा स्किन से जुड़ी कई परेशानियों का कारगर इलाज है। दाद खाज खुजली वाली जगह पर ताजी एलोवेरा की पत्ती से जेल निकालें और लगाकर छोड़ दें। यह त्वचा को मॉयश्चराइज करता है जिससे स्किन ड्राई नहीं रहती और इसी से खुजली भी दूर होती है।

देसी घी
देसी घी भी दाद खाज खुजली का आसान और असरदार इलाज है। खुजली वाली जगह पर देसी घी लगाएं और देखें इसका फायदा।

हल्दी
हल्दी एक नेचुरल एंटीबायोटिक की तरह काम करता है, जो चोट, जलन जैसी समस्याओं को दूर करने के साथ ही खुजली में भी कारगर है। इसके लिए हल्दी और पानी को मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बनाएं और इसे कॉटन की मदद से जहां-जहां खुजली हो रही है वहां लगाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.