अमेरिका के कई अस्पतालों में मास्क अब जरूरी, न्यूयॉर्क समेत चार राज्यों ने जारी किए कोविड गाइडलाइंस

अमेरिका के कोरोना का मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के डाटा के अनुसार, पूरे अमेरिका में 17-23 दिसंबर तक कोविड की वजह से 29,000 मरीजों को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। वहीं, इस दौरान बुखार की वजह से 14,700 मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

इन चार राज्यों में मरीजों को मास्क पहना जरूरी
अमेरिका में कोरोना की रफ्तार तेज न हो इसके लिए कुछ राज्यों ने मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है। अमेरिका के चार राज्य, न्यूयॉर्क, कैलिफोर्निया, इलिनोइस और मैसाचुसेट्स के अस्पताल में मरीजों और स्वास्थ्य कर्मियों को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। न्यूयॉर्क शहर के स्वास्थ्य आयुक्त डॉ.अश्विन वासन ने जानकारी दी कि शहर से सभी 11 सरकारी अस्पताल, 30 स्वास्थ्य केंद्र और पांच दीर्घकालिक देखभाल सुविधा केंद्र में मरीजों और स्वास्थ्य कर्मियों को मास्क लगाना होगा।

कोरोना की वजह से 11 लाख लोगों की हुई मृत्यु
सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के आंकड़ों के अनुसार अमेरिका में कोरोना की वजह से 11 लाख मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। शिकागो में रश यूनिवर्सिटी मेडिकल सिस्टम में भी मंगलवार को जानकारी दी कि अस्पताल के कैंपस में मरीजों और स्वास्थ्य कर्मियों को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।

बता दें कि न्यूयॉर्क शहर ने पिछले सप्ताह शहर के 11 सार्वजनिक अस्पतालों के लिए मास्क अनिवार्य किया था। पिछले सप्ताह लॉस एंजिल्स और मैसाचुसेट्स के कुछ अस्पतालों में इसी तरह के उपायों का आदेश दिए गए थे।

जेएन.1 वेरिएंट के बढ़ते मामलों ने बढ़ाई चिंता

विशेषज्ञों की मानें तो कोविड के बढ़ते मामलों से घबराने की जरूरत नहीं है। न्यू ईयर की छुट्टियों के बाद अमेरिकी रोजमर्रा की जिंदगी में वापस लौटने वाले हैं। इस मद्देनजर डॉक्टरों ने कोरोना और बुखार से बचने के लिए लोगों को एहतियात बरतने की चेतावनी भी दी है।

बता दें कि इस जापान, भारत समेत कई देशों में कोरोना जेएन.1 वेरिएंट के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अमेरिका भी इस वेरिएंट को लेकर चिंतित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.