प्राण प्रतिष्ठा के बीच बढ़ी इन सीरियल की डिमांड!

मर्यादा पुरुषोत्तम राम की नगरी ‘अयोध्या’ पूरी तरह से सज चुकी है। राम लला की प्राण प्रतिष्ठा से पहले उत्सव के लिए अयोध्या पूरी तैयार हो चुकी है। 22 जनवरी 2024 को राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम होगा। सितारों से लेकर खिलाड़ियों तक हर कोई इस दिन का साक्षी बनने के लिए बिल्कुल तैयार है।

इंडियन फिल्म और टेलीविजन में भी भगवान राम के जीवन पर अब तक कई अलग-अलग तरह की फिल्में और टीवी शोज आ चुके हैं। अलग-अलग सालों में टेलीविजन पर ‘रामायण’ के जरिये भगवान राम की कथा देख चुके हैं।

अब राम लला के प्राण प्रतिष्ठा के बीच भगवान राम के जीवन से जुड़े शोज की सर्चिंग भी बढ़ गयी है। चलिए उन शोज पर एक नजर डालते हैं, जिनमें भगवान राम और माता सीता की कहानी को कई अलग निर्देशकों के नजरिये से सामाजिक संदेश देते हुए टेलीविजन पर उतारा गया है।

रामायण ( रामानंद सागर) – 1987
रामानंद सागर की ‘रामायण’ आज भी लोगों के जेहन में हैं। जैसे ही राम लला की प्राण प्रतिष्ठा का समय करीब आया, वैसे ही अरुण गोविल और दीपिका चिखलिया के इस पौराणिक शो को लेकर सर्चिंग तेज हो गयी। रामानंद सागर की रामायण में अरुण गोविल ने भगवान राम और दीपिका चिखलिया ने माता सीता का किरदार अदा किया था।

साल 1987 में आई रामायण ने दर्शकों पर ऐसा गहरा प्रभाव छोड़ा कि आज भी जहां इस शो के सितारे जाते हैं, तो लोग उनका आशीर्वाद लेने के लिए उमड़ पड़ते हैं।

रामायण (बी आर चोपड़ा)- 2001
फिल्म निर्देशक बी आर चोपड़ा की ‘महाभारत’ का हर किरदार आज भी लोगों को बखूबी याद है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि रामानंद सागर के अलावा बी आर चोपड़ा भी ‘रामायण’ लेकर आए थे, जिसका प्रसारण जीटीवी पर होता था। रवि चोपड़ा द्वारा निर्देशित इस पौराणिक शो की कहानी महर्षि वाल्मीकि की रामायण, तुलसीदास की रामचरित मानस और कालिदास की रघुवंशम महाकाव्य से एडेप्ट की गयी थी।

रामायण (रामानंद सागर )- 2008
साल 2008 में एक बार फिर से ‘रामायण’ की कहानी को पर्दे पर लेकर हाजिर हुए रामानंद सागर। हालांकि, इसके निर्देशन की कमान आनंद सागर ने संभाली थी। इस शो में भगवान राम और माता सीता के 14 वर्षों का वनवास की कहानी को निर्देशक ने बड़ी ही खूबसूरती के साथ छोटी स्क्रीन पर उतारा था।

शो में गुरमीत चौधरी ने मर्यादा पुरुषोत्तम राम और देबिना बनर्जी ने माता सीता का किरदार निभाया था। इस शो की खास बात ये थी कि इसमें राम और सीता सहित लक्ष्मण से लेकर लंकापति रावण और हर किरदार की पूरी डिटेल्स दिखाई गई थी।

रामायण: सबके जीवन का आधार(मुकेश सिंह)- 2012
‘रामायण’ में अलग-अलग टैग लाइंस के साथ भगवान राम के जीवन की कहानी को छोटे पर्दे पर कई मेकर्स ने उतारा। साल 2008 में रामानंद सागर की रामायण के बाद साल 2012 में भी रामायण आई, जिसमें श्री राम की कहानी को नए चेहरों के साथ दिखाया गया। हालांकि, जीटीवी पर प्रसारित ये शो कुछ खास कमाल नहीं कर सकता और लोगों ने भी इस रामायण को बहुत ज्यादा याद नहीं रखा।

श्रीमद रामायण- 2024
साल 2024 में सोनी टीवी ने एक बार फिर से श्रीराम और माता सीता की कहानी को पर्दे पर उतारा है। खास बात ये है कि ये शो 22 जनवरी ‘राम लला प्राण प्रतिष्ठा’ से कुछ दिनों पहले ही टेलीविजन पर प्रसारित हुआ है।

इस शो सुजय रेऊ श्रीराम का किरदार अदा कर रहे हैं, तो वहीं एक्ट्रेस प्राची बंसल माता सीता के किरदार में दिखाई देंगी। इस पौराणिक शो में अयोध्या नगरी की कहानी को दर्शाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.